गुलाब की खेती कर कमाएं लाखों रुपए (Gulab Ki Kheti)

0
84
Gulab Ki Kheti, gulab ki kheti kaise kare, गुलाब की खेती
Gulab Ki Kheti, gulab ki kheti kaise kare, गुलाब की खेती

जानें गुलाब की खेती कैसे की जाती है व गुलाब की खेती के लाभ (Gulab Ki Kheti)

गुलाब का फूल देखने में बेहद ही सुंदर होता है और यही वजह है कि किसी भी तरह के कार्यक्रम में इस फूल का प्रयोग जरूर किया जाता है। गुलाब के फूल की डिमांड काफी अधिक है और इसलिए लोग गुलाब की खेती (gulab ki kheti ) किया करते हैं। गुलाब की खेती (gulab ki kheti) करके कोई भी आसानी से हर महीने लाखों रुपए कमा सकता है। इसलिए किसी व्यापार की तलाश करने वाले लोगों के लिए गुलाब की खेती (gulab ki kheti) करना बेहद ही फायदेमंद  है। क्योकि इसमें निवेश कम है और आय अधिक है। तो आइए जानते हैं कि गुलाब की खेती कैसे करें (gulab ki kheti kaise kare)।

गुलाब की खेती करने से पहले आपको गुलाब के फूल के बारे में हर जानकारी होना बेहद ही जरूरी है। जैसे की गुलाब के प्रकार, गुलाब की खेती किस सीजन में करना चाहिए, इसकी खेती करने में आने वाला खर्च और इत्यादि। गुलाब की खेती (gulab ki kheti) से जुड़े इन सभी सवालों का जवाब हम आपको देने वाले हैं। तो आइए सबसे पहले जानके हैं गुलाब के प्रकार –

गुलाब के प्रकार

गुलाब के प्रकार कई तरह के होते हैं। आपको जानकार हैरानी होगी कि गुलाब की किस्में लगभग 21 हजार से अधिक हैं। हालांकि कुछ ही गुलाब की किस्मों को के खेती के लिए उत्तम माना जाता है। जिनके नाम इस प्रकार है।

हाइब्रिड चाय गुलाब (Hybrid tea roses)
ग्रैंडिफ्लोरा गुलाब (Grandiflora roses)
फ्लोरिबंडा गुलाब (Floribunda roses)
पोलींथा गुलाब (Polyantha roses)
लघु गुलाब और मिनीफ्लोरा गुलाब (Miniature rose and miniflora roses)
शरब गुलाब (Shrub roses)
पर्वतारोही / रैम्बलर गुलाब (Climber/ rambler roses)

गुलाब के रंग भी कई प्रकार के होते हैं। लेकिन गुलाब का सबसे प्रसिद्ध रंग लाल और गुलाबी ही होता है। इसलिए आप इन दोनों रंग के फूलों की खेती ही करें।

कैसे करें गुलाब की खेती (Gulab Ki Kheti Kaise Kare)

गुलाब की खेती (gulab ki kheti) करने के लिए आपको जमीन की जरूरत पड़ेगी। याद रहे कि जितनी बड़ी जमीन पर आप खेती करेंगे उतना ही आपको मुनाफा होगा। इसलिए आप अच्छे खासे बड़े खेतों में ही गुलाब की खेती करें। गुलाब की खेती (gulab ki kheti) के लिए केवल उपजाऊ जमीन का ही प्रयोग करें। साथ में ऐसी जमीन चुने जिसके आसपास पानी की सुविधा हो। इसके अलावा उसी जमीन में गुलाब की खेती करें जिसका पीएच का लेवल 6 से 8 के बीच हो। साथ में ही इस लगाते समय पानी निकलने की जगह भी जरूर बनाएं।

अगर आपने कभी गुलाब की नर्सरी देखी होगी तो आपको आइडिया होगा कि कैसे गुलाब की खेती की जाती है। इसलिए हमारी आपसे यही सलाह होगी कि गुलाब का बिजनेस (Gulab business in hindi) शुरू करने से पहले आप किसी गुलाब की नर्सरी जाएं। ऐसा करने से आपको गुलाब की खेती कैसे की जाती है ये अच्छे से पता चल जाएगा।

बीज

गुलाब की खेती शुरू करने से पहले आपको गुलाब के बीज खरीदने होंगे। कोशिश करें की आप अच्छी गुणवत्ता के ही गुलाब के बीज खरीदें।

मौसम

गुलाब हर मौसम में उगने वाला फूल नहीं है। इसलिए इसकी खेती करते समय आप मौसम पर खासा ध्यान दें। कृषि विशेषज्ञों गुलाब लगाने के लिए मॉनसून का समय सबसे उत्तम होता है। इसलिए आप इसकी खेती बारिश के समय यानी जुलाई, अगस्त और सितंबर में ही करें।

तपमान

गुलाब की खेती के लिए ठंडा तापमान जरूरी होता है। इसलिए जिस जगह का तापमान 20 से 30 डिग्री सेंटीग्रेट हो उसी जगह इसकी खेती करें।

दिन का तापमान 25 से 30 डिग्री सेंटीग्रेट
तथा रात का तापमान 12 से 14 डिग्री सेंटीग्रेट

 

खेती शुरू करने से पहले रखें इन बातों का ध्यान

  • गुलाब का पौधे लगाने से एक महीने पहले आप जमीन में गड्ढे करना शुरू कर दें। जमीन पर आप दो से तीन फुट की दूरी में गड्ढे करें। जबकि इनकी गहरी दो से ढाई फुट हो।
  • जमीन को उपजाऊ बनाने के लिए गड्ढे के अंदर पांच किलो गोबर की खाद और 20 मि.ली. क्लोरोपाइरीफोस एक साथ मिलाकर दें। एक महीने बाद इनके अंदर आप गुलाब का पौधा या बीज लगा दें।

खेती के जरूरी हैं ये चीजें

कृषि विशेषज्ञों के मुताबिक प्रति एकड़ गुलाब की खेती के लिए आपको निम्नलिखित मात्रा में इन चीजों की जरूत पड़ेगी

गोबर की गली-सड़ी खाद 20 टन
यूरिया 320 किलो
सिंगिल सुपर फासफेट 500 किलो
128 किलो म्यूरेट पोटाश

 

गुलाब को खिलने में अधिक समय नहीं लगता है और इस पौधे में दो महीने में ही फूल लग जाता है। अगर मॉनसून शुरू होते ही इसकी खेती शुरू कर दें, तो ये सितम्बर-अक्टूबर में उग जाएगा। इसके अलावा आप चाहें तो सर्दी के मौसम में भी इसकी खेती कर सकते हैं।

गुलाब की खेती से कमाई (Gulab Ki Kheti Business)

गुलाब की खेती से कमाई कैसे की जाए? ये सवाल कई लोगों के मन में आता है। दरअसल गुलाब के फूल को बेचकर आप अच्छे खासे पैसे अर्जित कर सकते हैं। आप किसी भी फूल मंडी में गुलाब के फूल को बेच सकते हैं। इसके अलावा आप चाहें तो किसी ऐसी कंपनी से संपर्क कर उन्हें गुलाब दे सकते हैं। जो कि गुलाब जल बनाती हो। इतना ही नहीं गुलाब की खेती कर आप खुद का भी गुलाब जल का व्यापार कर सकते हैं। गुलाब जल का व्यापार आसानी से किया जा सकता है। आप बस इस चीज को दिमाग में रखकर फूल का व्यापार करें कि ये फूल हमेशा डिमांड में रहते हैं। आपको बस जरूत है सही से इस व्यापार को समझने की। एक बार व्यापार समझने से आपको गुलाब की खेती से कमाई आसानी से होने लग जाएगी।

भारत में कहां की जाती है गुलाब की खेती

भारत में गुलाब की खेती कई सारे राज्यों में की जाती है और इन राज्यों के नाम इस प्रकार हैं-

कर्नाटक
तमिलनाडु
महाराष्ट्र
बिहार
पश्चिम बंगाल
गुजरात
हरियाणा
पंजाब

 

गुलाब के बिजनेस व खेती से जुड़े सवाल- 

गुलाब की कटाई कब करें

जब गुलाब के फूल अच्छे से खिल जाएं और इनकी टहनी मोटी हो जाए तो समझ लें की गुलाब की कटाई की जा सकती है। लेकिन गुलाब को काटते समय बस ये ध्यान रखें कि इस कटाते के एक दो दिन के अंदर ही आपको बाजार में ये बेचने होंगे।

गुलाब की कटिंग कैसे करें

गुलाब की कटिंग के लिए एक औजार आता है। जिसकी मदद से आसानी से इसकी कटाई की जी सकती है।

हम उम्मीद करते हैं कि आपको गुलाब की खेती कैसे करें (gulab ki kheti kaise kare) और गुलाब की खेती करने से क्या लाभ होते हैं। इसके बारे में विस्तार से जानकारी मिल गई होगी। इस तरह के अन्य लेख जाने के लिए हमारे फेसबुक पेज को लाइक करें-

ये भी पढ़ें- गुलाब जल का व्यापार

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here