जेम्स नाइस्मिथ का जीवन परिचय (James Naismith biography in hindi)

0
102
जेम्स नाइस्मिथ बर्थडे, James Naismith Birthday inventor of Basket ball, जेम्स नाइस्मिथ का जीवन परिचय, James Naismith biography in hindi, गूगल डूडल, google doodle James Naismith, जेम्स नाइस्मिथ कौन हैं, बास्केटबॉल के खेल का आविष्कार किसने किया है, James Naismith im hindi
जेम्स नाइस्मिथ बर्थडे, James Naismith Birthday inventor of Basket ball, जेम्स नाइस्मिथ का जीवन परिचय, James Naismith biography in hindi, गूगल डूडल, google doodle James Naismith, जेम्स नाइस्मिथ कौन हैं, बास्केटबॉल के खेल का आविष्कार किसने किया है, James Naismith im hindi

जेम्स नाइस्मिथ का जीवन परिचय (James Naismith biography in hindi) –

गूगल डूडल (google doodle James Naismith) ने आज अपना पेज जेम्स नाइस्मिथ को समर्पित किया है। ऐसे में कई लोगों के मनों में ये सवाल आ रहा है कि आखिर जेम्स नाइस्मिथ कौन हैं और क्यों आज गूगल डूडल पेज जेम्स नाइस्मिथ को समर्पित किया गया है। अगर आप लोगों ने बास्केटबॉल गेम के बारे में सुना हैं, तो आपको बता दें कि दुनिया के फेमस इस खेल को जेम्स नाइस्मिथ द्वारा बनाया गया है। जी हां, बास्केटबॉल के खेल का आविष्कार जेम्स नाइस्मिथ (James Naismith basketball) ने किया है। बास्केटबॉल के आविष्कार के अलावा इन्होंने ओर भी कई योगदान दिए हैं। आज हम आपको बास्केटबॉल खेल का आविष्कार करने वाले जेम्स नाइस्मिथ की जीवनी (James Naismith biography in hindi )  बताने जा रहे हैं।

जन्म

जेम्स नाइस्मिथ का जन्म 6 नवंबर, 1861 को अलमोंटे, ओंटारियो, कनाडा में हुआ था। सन् 1891 में, इन्होंने कनाडा देश छोड़ दिया था और स्प्रिंगफील्ड, मैसाचुसेट्स आ गए थे। संयुक्त राज्य अमेरिका जाने से पहले मॉन्ट्रियल के मैकगिल विश्वविद्यालय में नाइस्मिथ बतौर शारीरिक शिक्षा के टीचर के रुप में काम किया करते थे।

साल 1891 में इन्होंने बास्केटबॉल के खेल को डिजाइन किया था। इस दौरान ये स्प्रिंगफील्ड, मैसाचुसेट्स में इंटरनेशनल वाईएमसीए ट्रेनिंग स्कूल में पढ़ाया करते थे। यहां पर ही इन्होंने बास्केटबॉल के खेल का आविष्कार किया था। इनके द्वारा ही बास्केटबॉल खेल के नियम बनाए गए हैं और इन्होंने बास्केटबॉल नियम पुस्तक लिखी और कैनसस बास्केटबॉल कार्यक्रम की स्थापना की थी।

नाइस्मिथ कंसास विश्वविद्यालय व दुनिया के पहले बास्केटबॉल कोच हैं। वहीं इनकी उपलब्धियों को गूगल द्वारा याद किया गया है। इनकी मृत्यु 28 नवंबर, 1939 को लॉरेंस, कंसास, यू.एस में हुई थी। इनकी आयु 78 वर्ष की थी। इनके योगदान तो आज भी लोगों ने याद रखा है और इनके जन्म स्थान अलमोंटे, ओंटारियो में इनकी मूर्ति लगाई गई है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here