शनि की महादशा व शनि ग्रह के उपाय (Shani Grah Ke Upay)

0
79
Shani Grah Ke Upay, shani dev photo, shani dev images,
Shani Grah Ke Upay, shani dev photo, shani dev images,

शनि की महादशा व शनि ग्रह के उपाय shani ki mahadasha, Shani Grah Ke Upay

शनि ग्रह के उपाय (Shani Grah Ke Upay): शनि ग्रह को प्रसन्न करना बेहद ही सरल है। इसलिए अगर कुंडली में शनि ग्रह की महादशा (shani ki mahadasha) चले तो आप घबराएं नहीं बस इस ग्रह को प्रसन्न करने के उपायों को करें। शनि ग्रह के उपाय (Shani Grah Ke Upay) करने से महज एक महीने के अदंर ही आपको असर दिखने लग जाएगा और इस ग्रह की बुरी महादशा (shani ki mahadasha) से आप बच जाएंगे। हालांकि शनि ग्रह को प्रसन्न (Shani Grah Ke Upay) करने के उपायों के बारे में कम लोगों को ही जानकारी होती है। इसलिए आज हम शनि देव पर ये लेख लाए हैं। इस लेख के माध्यम से हम आपको शनि ग्रह से जुड़े हर सवाल व उपायों को विस्तार से बताएंगे।

शनि देव की दृष्टि 

शनि देव की दृष्टि से हर कोई डरता है। दरअसल इस ग्रह की दृष्टि को शुभ नहीं माना जाता है और इसलिए लोग शनि देव की दृष्टि से भय खाते हैं। शास्त्रों के अनुसार शनि देव की दृष्टि पड़ने से दुष्परिणाम का सामना करना पढ़ता है। ये ग्रह संतुलन और न्याय का ग्रह माना गया है। इसलिए जो लोग बुरे कर्मों को करते हैं, उनपर इस ग्रह की बुरी दृष्टि जीवन में एक बार जरूर पड़ती है और जीवन में साढ़े साती आरंभ हो जाती है।

इन बुरे कर्मों की जरूर मिलती है सजा

जो जातक नीचे बताए गए कर्मों में समलीत होते हैं उन्हें ये ग्रह सजा जरूर देता है। शास्त्रों के अनुसार अगर कोई व्यक्ति नीचे बताए गए पाप अपने जीवन काल के दौरान करता है, तो उसे शनि देव से कोई भी नहीं बचा सकता है।

  • लोगों का अपमान करना
  • किसी के मन को दुखाना
  • बड़ों का सम्मान ना करना
  • लालच करना
  • लोगों के जीवन में कष्ट पैदा करना
  • चोरी करना
  • अच्छे कर्म ना करना

शनि की महादशा में क्या होता है (shani ki mahadasha me kya hota hai)

शनि की महादशा में क्या होता है (shani ki mahadasha me kya hota hai) ये सवाल कई लोगों के मनों में आता है। दरअसल जब भी शनि की महादशा शुरू होती है जो जीवन में कई सारे बदलाव आ जाते हैं, जो कि आपके अनुकूल नहीं होते हैं।

  • शनि की महादशा (shani ki mahadasha) शुरू होने पर व्यक्ति को धन हानि होने लग जाती है और वो कंगाली की और खींचा चला जाता है।
  • शनि की महादशा (shani ki mahadasha) के चलते जातक का विवेक खत्म हो जाता है और वो सदा गुस्से में रहने लग जाता है।
  • जातक की फैसला लेने की शक्ति पर असर पड़ता है वो काम नहीं करती है।
  • शनि की टेढ़ी नजर के कारण सफलता हासिल नहीं होती है।
  • जातक में चिड़चिड़ापन आ जाता है।

अगर आपके साथ ऊपर बताई गई बतातें हों तो समझ लें की शनि की महादाश (shani ki mahadasha) शुरू हो गई है।

शनि की महादशा में क्या करें (shani mahadasha me kya kare)

  • शनि की महादशा शुरू होने पर आप (shani mahadasha me kya kare) शांत रहें और कोशिश करनें की किसी के संग विवाद ना करें। क्योंकि ऐसा करने से आपकी ही हानि होगी।
  • शनि की महादशा (shani ki mahadasha) होने पर पैसों से जुड़े बड़े फैसले लेने से हैं।
  • हो सके तो सभी जरूरी कामों को टाल दें।
  • शुभ कार्य को ना करें, अगर बेहद ही जरूरी हो तो केवल कार्य को शुभ मुहूर्त में ही आरंभ करें।
  • नया बिजनेस शुरू ना करें और पैसे निवेश ना करें।

शनि की महादशा के सरल उपाय (shani ki mahadasha ke saral upay)

शनि की महादशा के सरल उपाय (shani ki mahadasha ke saral upay) करने से इसके प्रकोप को कम किया जा सकता है। इसलिए शनि की महादशा के सरल उपाय (shani ki mahadasha ke saral upay) आप जरूर करें, ये उपाय इस प्रकार हैं।

  • रोज काली चीज का दान करें।
  • काले कुत्ते को रोटी खिलाएं, वो भी तेल वालें।
  • चप्पल का दान करें।
  • शनि देव की आरती करें।
  • तेल का दान करें।

ऊपर बताए गए शनि ग्रह के उपाय (Shani Grah Ke Upay) करने से महादशा का असर आपके जीवन में नहीं पड़ेगा। इसलिए शनि ग्रह के उपायों (Shani Grah Ke Upay) को जरूर आजमाएं। शनि ग्रह के उपाय (Shani Grah Ke Upay) बेहद ही सरल हैं।

फलदायक भी होती है शनि ग्रह की महादशा

शनि ग्रह की महादशा (shani ki mahadasha) को फलदायक भी माना गया है। शास्त्रों के अनुसार जो जातक नीचे बताए गए कार्यों को करते हैं उनपर शनि ग्रह की महादशा फलदायक साबित होती है।

  • बड़ों की सेवा करने वाले
  • जानवरों को प्यार करने वाले
  • रोज पूजा करने वाले
  • सत्य का साथ देने वाले
  • झूठ से दूर रहने वाले
  • मीठी वाणी वाले
  • लोगों का सम्मान करने वाले

शनि ग्रह को प्रसन्न करनें के उपाय

अगर आप चाहते हैं कि शनि देव आप से प्रसन्न रहें और आपको शनिदेव की महादशा का केवल फलदायक फल ही मिले तो नीचे बताए गए शनि देव को प्रसन्न करने के उपाय कर दें। ये शनि ग्रह के उपाय करने से आपको इस ग्रह से डरने की कोई भी जरूरत नहीं पड़ती है। क्योंकि ये ग्रह आपके अनुकूल ही बना रहता है।

शनि ग्रह के उपाय (Shani Grah Ke Upay)

  • शनि ग्रह को प्रसन्न करने के लिए हर सैटरडे इनकी पूजा करें।
  • सैटरडे के दिन तेल का दीपक जलाएं।
  • तुलसी व पीपल के जड़ पर काले तिल डालकर दूध अर्पित करें।
  • गरीबी की मदद करें।
  • सैटरडे को लोहे का दान करें
  • तला हुआ खाना गरीबी में बांटें

शनि देव से जुड़े अन्य उपाय

इन उपायों को करना भी फलदायक ही साबित होता है। इसलिए आप ये उपाय भी किया करें।

  • अपनी छाया का दान करें। ऐसा करने के लिए तेल के अंदर अपने आपको देख लें और उस तेल का दान कर दें।
  • अपने पहने हुए वस्त्रों का दान कर दें।
  • शनिवार के दिन बालों को काटने से बचें।
  • लोहे की चीजों का धारण ना करें।
  • शनिदेव को लाल रंग का फूल अर्पित करें
  • हुनमान जी को प्रसन्न करें। इसके लिए चालीसा पढ़ लें।
  • शनि देव मंत्र को पढ़ें।
  • शनि देव कथा पढें
  • शनि देव की आरती (shani dev aarti), शनि देव चालीसा रोज पढ़े।

शनि ग्रह से जुड़े सवालों के जवाब –

शनि की महादशा के लक्षण

शनि की महादशा के लक्षण साफ नजर आने लग जाते हैं, जैसे कि कार्य में सफलता ना हासिल होने। धन हानि, परिवार में लड़ाई, जीवन साथ के साथ झगड़ा, जीवन में अशांति व इत्यादि।

शनि की महादशा के उपाय

शनि की महादशा के उपाय सरल है, आप ज्यादा कुछ नहीं कर सकते हैं तो बस तेल का दान कर दें या शनि देव की आरती (shani dev aarti) पढ़ लें।

शनि की महादशा कितने साल की होती है

शनि की महादशा कम से कम सात साल तक बनीं रहती है। दरअसल ग्रहों की चाल के साथ ये बदल जातीहै।

उच्च के शनि की महादशा में क्या होता है

उच्च के शनि की महादशा होने पर किस्मत खुल जाती है। वहीं बुरी महादशा (shani ki mahadasha) होने पर ऊपर बताए शनि ग्रह के उपाय (Shani Grah Ke Upay) कर लें।

ये भी पढ़ें- छिपकली का जमीन पर चलना 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here