बसंत फूल के फायदे और नुकसान | Basant Phool ke Fayde, Upyog

0
87
बसंत फूल के फायदे और नुकसान Basant Phool ke Fayde, Upyog
बसंत फूल के फायदे और नुकसान Basant Phool ke Fayde, Upyog

बसंत फूल भारत में काफी अधिक पाए जाते हैं। ये फूल देखने में बेहद ही सुंदर होते हैं। बसंत फूल के फूलों में कई सारे औषधियां गुण होते हैं और इन फूलों की मदद से रोगों को सही किया जा सकता है। बसंत फूल के फायदे इस फूलों को अन्य फूलों से विशेष बनाते हैं। इन फूलों का रंग पीला होता है और इन फूलों को अंग्रेजी भाषा में सेंट जॉन्स वॉर्ट के नाम से जाना जाता है। जबकि कई लोग इन्हें टेसू के फूल भी कहते हैं। इस लेख में बसंत फूल के फायदे और बसंत फूल के नुकसानों की जानकारी आपको देने जा रहे हैं। ताकि आप इन फूलों की मदद से घर बैठे ही अपने रोगों की सही कर सकें।

बसंत फूल के फायदे

माईग्रेन हो सही

माईग्रेन की समस्या से राहत दिलाने में बसंत फूल काफी सहायक होते हैं और इन फूलों की चाय पीने से माईग्रेन का दर्द सही हो जाता है। इसलिए माईग्रेन होने पर आप बसंत फूल की चाय का सेवन कर लें। इसकी चाय पीने से दर्द से आराम मिल जाएगा। दरअसल बसंत फूल के अंदर हाइपरफोरीन नामक केमिकल पाया जाता है। ये केमिकल  न्यूरोटॉमीटर्स, जैसे सेरोटोनिन और डोपामाइन को बढ़ावा देते है जो कि इस दर्द को खत्म करने का काम करते हैं।

बुखार हो दूर

बुखार होने पर बसंत फूल के फूल का रस पी लें। इस फूल का रस या पानी पीने से बुखार उतर जाएगा और शरीर का तापमान सही हो जाएगा। बुखार होने पर आप इस फूल का पानी दिन में दो बार पीएं। ये पानी पीते ही बुखार सही हो जाएगा।

गले की दर्द हो सही

गर्द में दर्द होने पर बसंत के फूल की चाय का सेवन कर लें। इनकी चाय पीने से गले की दर्द सही हो जाएगी और गले को आराम पहुंचेगा। दरअसल इस फूल के अंदर ऐंटीबायोटिक तत्व होते हैं जो कि गले की दर्द को गयाब कर देते हैं। गले की दर्द की तरह ही जुकाम होने पर भी बसंत के फूल की चाय पीने उत्तम होते है।

घाव हो सही

बसंत के फूल के फायदे और भी हैं और इन फूलों की मदद से घाव को भी सही किया जा सकता है। चोट के घाव पर अगर ये फूल लगा दिया जाए तो घाव सही हो जाता है। घाव लगने पर आप कुछ बसंत के फूल लेकर उन्हें पीस लें। उसके बाद इस फूल का लेप घाव पर लगा दें।

जहर फैलने से रोके

अगर कोई कीड़ा आपको काट लें तो आप तुरंत बंसत के फूल को काटने वाली जगह पर लगा दें। इन फूलों को लगाने से कीड़े का जगह नहीं फैल पाएगा और खत्म हो जाएगा।

सिर दर्द हो दूर

सिर की दर्द को सही करने में भी बसंत फूल के फायदे कारगर साबित होते हैं। इस फूल के तेल से सिर की मालिश की जाए तो सिर दर्द खत्म हो जाता है। सिर के अलावा हाथ और पैरों के दर्द को भी दूर करने में बंसत के फूल लाभदायक होते हैं।

त्वचा से जुड़े बसंत के फूल के फायदे

बसंत फूल के फायदे त्वचा के लिए अच्छे माने जाते हैं और इन फूलों को त्वचा पर लगाने से त्वचा को काफी लाभ मिलता है। यहीं वजह है कि इन फूलों का प्रयोग कई तरह के ब्यूटी उत्पादों को बनाने में किया जाता है।

बंसत फूल की चाय कैसे बनाएं

बसंत के फूल की चाय बनाने बेहद ही सरल है। बंसत की चाय बनान के लिए सबसे पहले गैस पर एक गिलास पानी गर्म करने के लिए रखें। इस पानी को अच्छे से गर्म कर लें। इसके बाद बसंत के फूलों को पीसकर इस पानी के अंदर डाल दें। इस पानी को अच्छे से उबाल लें और जब पानी आधा रहे जाए तो गैस को बंद कर दें। इस पानी को छान के पी लें। आप चाहें तो इस पानी के अंदर चीनी भी डाल सकते हैं।

कितनी बार करें बंसत फूल की चाय का सेवन और बंसत फूल के नुकसान

दिन में दो से अधिक बार बंसत फूल की चाय सेवन ना करें। इस चाय को अधिक पीने से मन खराब हो सकता है। साथ में ही छोटे बच्चों को भी बंसत के फूल की चाय देने से बचें। गर्भवती महिलाएं भी इस चाय को ना पीएं।

बसंत का तेल

बसंत के तेल से मालिश करने से दर्द दूर हो जाती है। बसंत का तेल फूल के बीजों से निकाला जाता है। आप बसंत के फूल के बीज को निकाल लें और इनको धूप में सूखा दें। उसके बाद इनको पीसकर बसंत का तेल निकाल लें। इस तेल से दर्द वाली जगह पर मालिश करें।

आप चाहें तो बसंत के फूल को किसी अन्य तेल में डालकर भी इसका तेल तैयार कर सकते हैं। नारियल के तेल को गर्म कर लें। उसके बाद नायिरल के तेल के अंदर बसंत के फूल को डाल दें। फिर इस तेल को हल्का ठंडा होने दें और इससे मालिश करे लें।

टेसू के फूल के अन्य लाभ

बसंत के फूल को टेसू के फूल भी कहा जाता है। टेसू के फूल के लाभ सेहत के संग तो जुड़े ही हैं। इसके अलावा टेसू के फूल की मदद से रंग भी बनाया जा सकता है। जी हां, आप होली में टेसू के फूल का रंग भी बना सकते हैं। टेसू के फूल का रंग तैयार करने के लिए आप टेसू के फूल लेकर उन्हें पीस कर पाउडर तैयार कर लें। फिर इस पाउडर को सूख लें। टेसू के फूल का रंग बनकर तैयार है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here