Jaiphal tel banane ki vidhi जायफल का तेल बनाने की विधि

0
117
जायफल का तेल बनाने की विधि
जायफल का तेल बनाने की विधि

जायफल का तेल बनाने की विधि (jaiphal tel banane ki vidhi)

जायफल क्या होता है (jaiphal in hindi)

जायफल को अग्रेंजी भाषा में Whole Nutmegs के नाम से जाना जाता है। जायफल एक प्रकार का मसाला होता जो देखने में अखरोट जैसा लगता है। जायफल का तेल (jaiphal ka tel) काफी सहायक माना जाता है और जायफल के तेल (jaiphal ka tel) की मदद से कई रोगों को गायब किया जा सकता है। जायफल का तेल बनाने की विधि (jaiphal tel banane ki vidhi) बेहद ही सरल है और इसे घर में सरलता से बना सकते हैं। हालांकि जायफल का तेल (jaiphal ka tel) कैसे बनाया जाता है, इसके बारे में कम ही लोगों को जानकारी होती है। इसलिए आप हम आपको जायफल का तेल बनाने की विधि (jaiphal tel banane ki vidhi) विस्तार से बताने जा रहे हैं, ताकि आप इसका तेल खुद से बना सकें। साथ में ही हम आपको जायफल के फायदे (jaiphal ke fayde) और नुकसान।

जायफल का तेल बनाने की विधि jaiphal tel banane ki vidhi

नारियल का तेल

जायफल (Whole Nutmegs)

ओखल या मिक्सी

बोतल

ऊपर बताई गई चीजों को जमा कर लें। इसके बाद तेल बनाने की विधि शुरू करें। जायफल तेल (jaiphal tel) बनाने हेतु सबसे पहले जायफल को ओखली या मिक्सी की मदद से दरदरा पीस कर इसका पाउडर (jaiphal Power) बना लें। पाउडर बनने के बाद इसे कांच की बोतल में डाल दें और उसमें नारियल का तेल भर दें। आप चाहें तो अन्य तेल का भी प्रयोग कर सकते हैं, लेकिन नारियल का तेल ज्यादा उत्तम है।

तेल डालने के बाद बोतल को अच्छे से शेक करें और इसे धूप में तीन दिनों के लिए रख दें। इस दौरान समय-समय पर इसे हिलाते रहें। तीन दिन बाद बोतल को खोल लें और तेल को इसे छान लें। छानकर निकले तेल को बोतल में भर दें जायफल का तेल (jaiphal ka tel) बनाकर तैयार है। वहीं जायफल तेल के फायदे (Jaiphal tel Ke Fayde) क्या हैं वो इस प्रकार हैं।

जायफल तेल के फायदे (Jaiphal tel Ke Fayde)

  • जायफल तेल की मदद से कई तरह की तकलीफों से राहत पाई जा सकती है।
  • जो लोग हाथों, पैरों और किसी भी तरह की दर्द से परेशान रहते हैं, वो लोग जायफल के तेल से मालिश कर लें। उनको दर्द से राहत मिल जाएगी।
  • जायफल का तेल चेहरे पर लगाना भी सही माना जाता है और इसे चेहरे पर लगाने से ग्लो आता है।
  • घुटनों में दर्द होने पर जायफल के तेल से मसाज कर लें।
  • मांसपेशियों को मजबूत बनाने के लिए रोज जायफल तेल लगाएं।
  • जायफल के तेल को दांतों में लगाने से दांतो का दर छूमंतर हो जाता है।
  • इस तेल में Anti-inflammatory and analgesic तत्व होते हैं। जिसकी मदद से मुंह की दुर्गंध भी गायब हो जाती है।
  • शरीर में सूजन आने पर जायफल तेल से मालिश कर लें।

जायफल तेल का सेवन

जी हां जायफल तेल का सेवन भी किया जाता है और इस तेल को पीने से पेट की दर्द छूमंतर हो जाती है। पेट में दर्द होते ही आप दो बूंद जायफल तेल की पी लें।

जायफल तेल के नुकसान (jaiphal ke nuksan)

  • जायफल तेल के साथ नुकसान भी हैं और इस तेल का अधिक इस्तेमाल करने से कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।
  • चेहेर में ज्यादा जायफल का तेल लगाने से जलन हो सकती। इसी तरह से रोज इस तेल से मालिश करने से त्वचा को नुकसान पहुंच सकता है।
  • इस तेल की वजह से उल्टी या मन भी खराब हो सकता है।
  • आंखों में जायफल का तेल जाने से जलन की शिकायत हो जाती है।

जायफल तेल के दाम ( jaiphal oil price)

अगर आप खुद से जायफल का तेल नहीं बनाना चाहते हैं, तो आप इसे दुकान से भी खरीद सकते हैं। जायफल तेल की कीमत ( jaiphal oil price) 150 रुपए से शुरू होती है।

जायफल की तासीर

जायफल की तासीर गर्म होती है और इसे अधिक लेने गर्मी हो जाती है।

हम उम्मीद करते हैं कि जायफल के इस लेख के माध्यम से आपको ये पता चल गया होगा कि जायफल का तेल बनाने की विधि (jaiphal tel banane ki vidhi) क्या है, जायफल तेल के फायदे (jaiphal ke fayde) और क्या क्या नुकसान (nuksaan) हो सकते हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here