Draupadi Murmu Biography In Hindi ( द्रोपदी मुर्मू का जीवन परिचय)

0
111
draupadi murmu president, draupadi murmu biography,
draupadi murmu president, draupadi murmu biography,

Draupadi Murmu Biography In Hindi : राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू (rashtrapati draupadi murmu ke jivani) हमारे देश की प्रथम आदिवासी महिला हैं. द्रौपदी मुर्मू ने राष्ट्रपति चुनाव जीतने के बाद 25 जुलाई, 2022 को राष्ट्रपति पद की शपथ ली है. जिसके साथ ही देश को 15वां राष्ट्रपति मिल (New rashtrapati India ) गया है. ‘‘ओडिशा की बेटी’’ द्रौपदी मुर्मू का जीवन काफी संघर्ष भरा रहा है. बतौर टीचर इन्होंने अपनी करियर की शुरुआत की थी और आज ये राष्ट्रपति बन गई हैं. आज हम आपको राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू की जीवनी बताने जा रहे (draupadi murmu ke bare me) हैं. आखिर ये कहां से आती हैं और किस तरह से उन्होंने टीचर से राष्ट्रपति बनने का सफर तय किया.

द्रौपदी मुर्मू का जीवन परिचय (Droupadi Murmu Biography In Hindi)

द्रौपदी मुर्मू कौन हैं?

आपको बता दें कि द्रौपदी मुर्मू उड़ीसा से नाता रखती हैं और आदिवासी महिला नेता हैं. द्रौपदी मुर्मू का जन्म इस राज्य के मयूरभंज जिले के बैदापोसी गांव हुआ था. 20 जून 1958 को जन्मी द्रौपदी मुर्मू के पिता का नाम बिरंची नारायण टुडू है. जो कि गांव के मुखिया हुआ करते थे.

 

पूरानाम द्रौपदीमुर्मू
जन्म 20 जून 1958 (आयु-64 वर्ष)
पिताजी का नाम बिरांची नारायण
पति का नाम Shyam Charan Murmu
लंबाई 5 फिट 4 इंच
जाति अनुसूचित जनजाति
पद भारत की 15वीं राष्ट्रपति

 

द्रौपदी मुर्मू की शिक्षा (rashtrapati draupadi education)

द्रौपदी पढ़ाई में तेज हुआ करती थी. उन्होंने अपनी शुरूआती शिक्षा गांव के लिए सरकारी स्कूल से हासिल की. जिसके बाद उच्च शिक्षा हासिल करने के लिए वहां भुवनेश्वर आ गई हैं और यहां पर रामादेवी महिला महाविद्यालय में दाखिला लिया. इस कॉलेज से उन्होंने स्नातक की डिग्री हासिल की और अपनी पढ़ाई पूरी की. आपको बता दें कि ये अपने गांव की पहली महिला बनीं, जिन्होंने इतनी उच्च शिक्षा हासिल की हो. वहीं पढ़ाई पूरी करते ही वे शिक्षक के तौर पर काम करने लगे और बच्चों को पढ़ाने लगी.

द्रौपदी मुर्मू का परिवार (Draupadi Murmu Ka Parivar)

द्रौपदी मुर्मू के पति का वनाम चरण मुर्मू (Draupadi Murmu Husband) था. इस विवाह से उन्हें, जिन्हें तीन संतान हुई. हालांकि कम ही उम्र में उनके बच्चों की मौत हो गई. कहा जाता है कि उनके पति, दो बेटे, मां और एक भाई की मौत महज तीन साल के अंदर ही हो गई.

द्रौपदी मुर्मू का राजनीतिक करियर

भाजपा के साथ जुड़कर इन्होंने सन् 1997 में अपने राजनीतिक करियर को शुरू किया. रायरंगपुर नगर पंचायत के पार्षद चुनाव में जीत हासिल की. जिसके बाद पार्टी ने इन्हें अनुसूचित जनजाति मोर्चा का उपाध्यक्ष बना दिया. ये  भाजपा और बीजू जनता दल की गठबंधन की सरकार में  Minister of Commerce and Transport Independent Charge रही हैं. इतना ही नहीं Minister of State for Fisheries and Animal Resource Development मंत्री के तौर पर काम किया. रायगंज विधानसभा सीट से विधायकी रही हैं. यहां तक की झारखंड की राज्यपाल भी रह चुकी हैं

एनडीए की ओर से राष्ट्रपति पद के लिए होने उनका नाम आगे किया गया था. जिसके बाद उन्होंने देश के 15वें राष्ट्रपति के लिए चुनाव लड़ा और इसे भारी मतों से जीता भी.

द्रौपदी मुर्मू cast, द्रौपदी मुर्मू jati

द्रौपदी मुर्मू अनुसूचित जनजाति (ST) से नाता रखती हैं

रोचक तथ्‍य

  1. राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मू से जुड़ी कुछ रोचक तथ्‍य भी हम आपको बतानें जा रहे हैं. ये झारखंड की पहली महिला राज्यपाल थी.
  2. ये भारत की पहली आदिवासी राष्ट्रपति हैं व दूसरी महिला राष्ट्रपति.
  3. इतना ही नहीं ये सबसे कम उम्र की राष्ट्रपति भी हैं.
  4. देश की पहली ऐसी राष्ट्रपति हैं जिनका जन्म आजादी के बाद हुआ हैं.

Draupadi Murmu Biography In Hindi पढ़कर आपको इनके जीवन के बारे में काफी जानकारी मिली होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here