कॉर्न स्टार्च किसे कहते हैं, फायदे, नुकसान और इसके उपयोग

0
190
White Corn flour meaning in Hindi
corn starch,White Corn flour meaning in Hindi

कॉर्नफ्लोर पाउडर मीनिंग इन हिंदी (White Corn flour meaning in Hindi), कॉर्न फ्लोर से क्या-क्या बनता है, कॉर्न फ्लोर के फायदे व नुकसान (corn flour ke nuksan aur fayde), कॉर्नफ्लोर Price, कॉर्नफ्लोर पाउडर और मक्के में अंतर (Difference between Cornflour and maize flour).

कॉर्नफ्लोर का प्रयोग कई तह के व्यंजनों को बनाने के दौरान किया जाता है. कॉर्न को हिंदी भाषा में मक्का कहा जाता है और फ्लोर को आटा, ऐसे में जब लोग कॉर्नफ्लोर का नाम सुनते हैं, तो उन्हें लगता है कि ये मक्के का आटा ही होता है. अगर आप भी यहीं सोचते हैं कि कॉर्नफ्लोर और मक्के के आटे में कोई अंतर नहीं है और ये दोनों चीजें एक ही हैं, तो आपकी ये सोच गलत है. दरअसल कॉर्नफ्लोर और मक्के के आटे में काफी अंतर है. कॉर्नफ्लोर और मक्के के आटे में क्या अंतर है, ये जानने से पहले आई जानते हैं कि कॉर्नफ्लोर क्या होता है (corn flour kya hota hai), कॉर्नफ्लोर के फायदे और नुकसान क्या है (corn flour ke nuksan), कॉर्नफ्लोर कैसे बनता है (corn flour kaise banta hai) व इसके प्रयोग.

यहाँ हम मक्का के स्टार्च रूप यानि मक्के के आटे (कॉर्नफ्लोर) की बात करने जा रहे हैं. तो आइये जानते हैं मक्के के आटे के उपयोग एवं उसके फायदे के बारे में.

कॉर्नफ्लोर क्या होता है (Corn Flour Kya Hota Hai)

मक्के के आटे को सूखे साबुत मक्के के दानों को पीसकर तैयार किया जाता है. इसका रंग सफेद और पीला होता है.वहीं कॉर्नफ्लोर मक्के के आटे से प्राप्त किया जाता है. ये मक्के का स्टार्च होता है. ये देखने में सफेद होता है. चिल्ली आलू, हॉट चॉकेलट व इत्यादि तरह की चीजों को बनाने के लिए इसका प्रयोग होता है. कॉर्नफ्लोर व्यंजनों को crispy बनाता है. इसे कॉर्न स्टार्च (corn starch) के नाम से भी जाना जाता है.

कॉर्नफ्लोर और मक्के के आटे में अंतर (Difference Cornflour or Corn Flour In Hindi)

जैसा की हमें आपको ऊपर बताया कि कॉर्नफ्लोर और मक्के के आटे के स्टार्ट से तैयार किया जाता है. मक्के के आटे से रोटियां बनाई जाती हैं. लेकिन कॉर्नफ्लोर से रोटी नहीं बनती है. इसे बस चीजों में डाला जाता है ताकि वो थिक हो सके. मक्के का आटा कॉर्नफ्लोर की तुलना में थोड़ा सा मोटा होता है.

मक्के के आटे और कॉर्नफ्लोर के उपयोग (Uses of Cornflour)

मक्के के आटा और कॉर्नफ्लोर के उपयोग कई सारे होते हैं. हालांकि कम ही लोगों को इसके उपयोग के बारे में जानकारी होती है. तो आइए जानते हैं विस्तार में की आखिर मक्के के आटे और कॉर्नफ्लोर के उपयोग क्या होते हैं.

भारतीय रसोई में मक्के के आटे और कॉर्नफ्लोर का उपयोग खूब होता है. बात की जाएग मक्के के आटे की तो मक्के की आटे से रोटियां बनाई जाती हैं. पंजाब में मक्के के आटे का खूब प्रयोग होता है. साग बनाते समय उसके अंदर मक्के का आटा जरूर डाला जाता है. वहीं कॉर्नफ्लोर के उपयोग से चीजों को थिक और करारा बनाया जाता है. कटलेट, हॉट चॉकलेट और बेकिंग में कॉर्नफ्लोर का उपयोग होता है.

कॉर्नफ्लोर के फायदे (Benefits of Cornflour)

1.कॉर्नफ्लोर के फायदे कई हैं. ये सेहत के लिए उत्तम होता है. कई प्रकार के व्यंजनों को बनाने के लिए इसका प्रयोग किया जाता है. इसमें फाइबर पाया जाता है और जो कि पेट के लिए उत्तम होता है. कब्ज होने पर कॉर्नफ्लोर का सेवन करें.

2.ब्लड प्रेशर के लिए कॉर्नफ्लोर उत्तम माना जाता है, इसे खाने से ब्लड प्रेशर नहीं बढ़ता है और सामान्य ही बना रहता है. इसलिए ब्लड प्रेशर रोगी इसका सेवन किया करें.

3.आंखों की रोशनी के लिए कॉर्नफ्लोर लाभकारी होता है, इसका सेवन करने से आंखों के स्वस्थ पर अच्छा असर पड़ता है.

4.त्वचा के लिए कॉर्नफ्लोर सही माना जाता है. इसे खाने से त्वचा स्वस्थ बनीं रहती है. दरअसल कॉर्नफ्लोर में कई विटामिन होते हैं. जो कि त्वचा के लिए अच्छे साबित होते हैं.

5. सूरज के कारण टैंन होने पर कॉर्न फ्लोर का प्रयोग करें. कॉर्न फ्लोर को पानी में घोलकर त्वचा पर लगा लें. इससे त्वचा को ठंडक प्रदान होगी.

कॉर्न फ्लोर के नुकसान (corn flour ke nuksan)

कॉर्न फ्लोर के नुकसान (corn flour ke nuksan) कई हैं. इसे खाने से कुछ लोगों का मन खराब हो जाता है. वहीं इसका सेवन शुगर के रोगियों के लिए उत्तम नहीं माना जाता है. जिन लोगों को लीवर से जुड़ी परेशानी रहती है, उन्हें भी कॉर्न फ्लोर का सेवन नहीं करना चाहिए. कई लोगों को कॉन फ्लोर से एलर्जी की शिकायत भी हो जाती है. वहीं अधिक कॉर्न फ्लोर से बनीं चीजों को खाने से आप मोटापे का शिकार भी हो सकते हैं.

इस तरह से रखें कॉर्नफ्लोर को

कॉर्नफ्लोर का पाउडर नमी में खराब हो जाता है. इसलिए इसे हमेशा डब्बे में बंद करके ही रखें. ताकि इसे हवा न लग सके. एक बार हवा के संपर्क में आने के बाद ये पाउडर जम जाता है और किसी काम का नहीं रहता है. कॉनफ्लोर के पैकेट को खोलने के बाद इसे कंटेनर में अच्छे से बंद करके रखें.

कॉर्न फ्लोर से जुड़े सवाल

कॉर्न फ्लोर और मक्के के आटे में क्या अंतर है ?

कॉर्न फ्लोर मक्के आटे से बेहद ही अलग होता है. मक्के का आटा कॉर्न के दानों को पीसकर प्राप्त किया जाता है. जबकि कॉर्न फ्लोर मक्के के आटे के स्टार्च होता है. दोनों का प्रयोग अलग-अलग चीजों में किया जाता है.

मकई के आटे से क्या बनता है ?

उत्तर भारत में मकई के आटे का खूब प्रयोग किया जाता है और इस आटे की रोटी खाई जाती है. मकई के आटे की रोटी सर्दी के मौसम में अधिक खाई जाती है.

कॉर्नफ्लोर के नुकसान क्या हैं ?

अधिक कॉनफ्लोर का सेवन करने से कई लोगों को फैटी लीवर, हाई कोलेस्ट्रॉल जैसी समस्या हो जाती है और डायबिटीज जैसे रोग हो सकते हैं. कॉर्नफ्लोर के नुकसान ओर भी हैं और इसे खाने से कई बार लोगों का मन भी खराब हो जाता है.

क्या नवरात्रि के व्रत में कॉर्न फ्लोर खा सकते है?

कई लोगों के मन में यही सवाल आता है कि क्या नवरात्रि के व्रत में कॉर्न फ्लोर खा सकते है?, दरअसल कॉनफ्लोर मकई के आटे से प्राप्त होता है, जो कि एक अनाज होता है. इसलिए नवरात्रि के व्रत में कॉर्नफ्लोर का सेवन नहीं करना चाहिए.

कॉर्न फ्लोर को हिंदी में क्या कहते हैं?

कॉर्न फ्लोर को हिंदी में मक्के का आटा ही कहा जाता है. हालांकि ये मक्के के आटे का स्टार्च होता है.

कॉर्न फ्लोर से क्या-क्या बनता है?

कॉर्न स्टार्च की मदद से हॉट कॉफी, सूप, मंचूरियन, सॉस, चिलि पटेटो

कॉर्नफ्लोर और मक्के के आटे के दाम ?

कॉर्न फ्लोर कीमत 50 से 70 रुपये के बीच होती है. जबकि मक्के का आटा एक किलो 30 से 40 रुपये के बीच का आता है.

तो ये थी कॉर्न फ्लोर से जुड़ी जानकारी, हम उम्मीद करते हैं कॉर्न फ्लोर से जुड़े इस लेख को पढ़कर आपको कॉर्न फ्लोर क्या होता है, कॉर्नफ्लोर के नुकसान व फायदों से जुड़ी जानकारी मिल गई होगी.

ये भी पढ़ें- आंखों के नीचे काले घेरे होने के कारण व हटाने के उपाय (aankhon ke niche kale ghere kaise hataye)

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here