Zomato के को-फाउंडर गौरव गुप्ता ने दिया इस्तीफा, साल 2008 में शुरू हुई थी ये कंपनी

0
222
Zomato-company-success-story-gaurav
Zomato-company-success-story-gaurav

जोमैटो (Zomato) कंपनी के को फाउंडर गौरव गुप्ता (Gaurav Gupta) ने इस कंपनी को अलविदा कह दिया है और अपने पद से इस्तीफा दे दिया है। इस खबर के बाहर आते ही जोमैटो के शेयर पर काफी असर पड़ा है और इनमें गिरावट दर्ज की गई है। जोमैटो के को फाउंडर गौरव गुप्ता साल 2015 में इस कंपनी से जुड़े थे। वहीं साल 2018 में उन्हें कंपनी का चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर बनाया गया था। मनीकंट्रोल के अनुसार कंपनी के फाउंडर दीपेंद्र गोयल और को-फाउंडर गौरव गुप्ता के बीच विवाद चल रहा था। जिसके कारण ही उन्होंने ये फैसला लिया है और कंपनी को छोड़ दिया है।

जोमैटो ने की हैं ये सर्विस बंद

जोमैटो ने कुछ समय पहले ही न्यूट्रास्युटिकल व्यवसाय जो कि स्वास्थ्य और फिटनेस उत्पादों से जुड़ा हुआ था और अपनी ग्रॉसरी डिलीवरी सर्विस को बंद कर किया था। ये दोनों व्यवसाय कामयाब नहीं रहे थे और इन्हें शुरू करने के पीछे गौरव गुप्ता का हाथ रहा था।

इस तरह से शुरू हुआ था जोमैटो (Zomato company success story)

जोमैटो को दीपेन्दर गोयल ने शुरू किया था। इस कंपनी को साल 2008 में दीपिंदर गोयल ने अपने साथी पंकज चड्ढा, और गुंजन पाटीदार के साथ मिलकर स्टार्ट किया था। जोमैटो को शुरू करने का ख्याल दीपेन्दर को अपने ऑफिस के कैफेटेरिया में खाना खाते हुए आया था। जिसके बाद दीपेन्दर ने एक ऑनलाइन वेबसाइट बनाने का सोचा। उन्होंने अपने दोस्त पंकज चड्ढा के साथ मिलकर वेबसाइट बनाई। ये बेवसाइट काफी चली और काफी ट्रैफिक आने लगी। इसका नाम फूडी-इबे डॉट कॉम (Foodiebay) रखा गया था। वहीं साल 2008 में शुरू इस कंपनी का नाम 18 जनवरी 2010 को बदल दिया गया और इसका नाम बदलकर ज़ोमैटो मीडिया प्राइवेट (Zomato company success story) कर दिया गया। साल 2011 में, Zomato ने दिल्ली NCR, मुंबई, बैंगलोर, चेन्नई, पुणे और कोलकाता में अपने व्यापार को बढ़ाया। वहीं अब ये कंपनी दुनिया के कई देशों में भी अपनी सेवा दे रही हैं।

कौन हैं दीपेन्दर (Zomato Founder Deepender Goyal Biography)

दीपेन्दर एक पंजाबी परिवार से नाता रखते हैं। उन्होंने आईआईटी दिल्ली से पढ़ाई की है। पढ़ाई के बाद उन्होंने कई कंपनियों में काम किया। काम करते हुए उन्हें लोगों के घर जाकर खाना देने के व्यापार का ख्याल आया है। एक मध्यमवर्गीय परिवार में जन्म दीपेंन्दर को ये सपना पूरा करने में कई साल लगे। आज दीपेंद्र गोयल (Zomato Founder Deepender Goyal Biography) की मेहनत के दम पर ही जोमैटो विश्व भर में फेमस हुआ है और कंपनी का व्यापार बढ़ा है।

ये भी पढ़ें –रास्ते से ही दूल्हे को लूटकर फरार हुई लुटेरी दुल्हन, साथ ले गई जेवरात व पैसे

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here